कमलनाथ के इस्तीफे के बाद सिंधिया के इस ट्वीट ने मचाया तहलका


कमलनाथ के इस्तीफे के बाद सिंधिया के इस ट्वीट ने मचाया तहलका

मध्यप्रदेश में कांग्रेस के दिग्गज नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के इस्तीफे के बाद और उनके भाजपा में चले जाने के बाद से प्रदेश में शुरू हुआ सियासी बवाल आखिरकार आज सीएम कमलनाथ के इस्तीफे के बाद खत्म हो गया। जी हां.. अब प्रदेश में एक बार फिर से शिवराज सिंह चौहान की सत्ता में वापसी की संभावना जताई जा रही है। माना जा रहा है कि वे एक मर्तबा फिर से सत्ता के ताज से सरताज हो सकते हैं। बहरहाल, अभी इसको लेकर अंतिम तौर पर कुछ भी कहना जल्दबाजी हो सकती है, मगर कमलनाथ ने अब फ्लोर टेस्ट से पहले इस्तीफा दे दिया है। ऐसे में प्रदेश में अब बीजेपी की सरकार बनना तय है।

बता दें कि कमलनाथ के इस्तीफे के बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया का एक ट्वीट वायरल हो रहा, जिसमें उन्होंने बताया है कि सत्य की जीत हुई है। उन्होंने अपने इस ट्वीट में कहा कि, ‘मध्यप्रदेश में आज जनता की जीत हुई है। मेरा सदैव यह मानना रहा है कि राजनीति लोगों की सेवा का माध्यम होना चाहिए, लेकिन प्रदेश सरकार इस रास्ते से भटक गई थी। सच्चाई की फिर जीत हुई है। सत्यमेव जयते।

  • बता दें कि अभी सोशल मीडिया पर सिंधिया का यह ट्वीट काफी वायरल हो रहा है। लोग इस पर जमकर प्रतिक्रिया व्यक्त कर रहे हैं। गौरतलब है कि प्रदेश में सियासी घमासान सिंधिया के इस्तीफे के बाद ही शुरू हुआ है। मालूम हो कि सिंधिया दिगग्ज नेताओं के फेहरिस्त में शुमार रहे हैं। ऐसी स्थिति में उनका चले जाना पार्टी के लिए नुकसानदायक साबित हो सकता है। वहीं, जब सिंधिया पार्टी से रूखसत हुए तो वे खुद अकेले नहीं गए बल्कि अपने साथ 22 अन्य कांग्रेसी विधायकों को भी ले गए, जिनमे से 6 का इस्तीफा स्पीकर ने स्वीकार भी कर लिया था।

इसके बाद स्थिति फ्लोर टेस्ट पर पहुंच गई, मगर स्पीकर ने कोरोना का हवाला देते हुए 24 मार्च तक विधानसभा को स्थगित कर दिया, जिससे खफा होते हुए बीजेपी ने सुप्रीम कोर्ट का रूख किया और याचिका दाखिल की, जिस पर सुनवाई करते हुए कोर्ट ने स्पीकर को फटकार लगाई और आज शाम पांच बजे तक फ्लोर टेस्ट कराने का आदेश दिया था, मगर कमलनाथ ने फ्लोर टेस्ट से पहले ही इस्तीफा दे दिया और तो और प्रेस कांफ्रेंस के दौरान बीजेपी सरकार पर जमकर निशाना भी साधा। उन्होंने कहा कि कमलनाथ सरकार को हमारी विकास करने वाली सरकार पसंद नहीं आई।

Source-google news

Have any Question or Comment?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *